आटे का खाली कंटेनर ने ले लिया जान, लुधियाना में मऊ के मजदूर ने लगा लिया फांसी, रोते बिलखते रह गए बच्चे


मृतक अजीत की पत्‍नी सविता राय ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह, उसका पति अजीत अपने दो बच्‍चों के साथ लुधियान के राजीव गांधी कॉलोनी में किराए के कमरे में रह रहे थे। सविता ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से फैट्रियां बंद होने के कारण उसका पति दो मार से बेरोजगार था।
घर में रखी जमां पूजी सब खत्‍म हो गई थी। पति रोज-रोज सरकारी राशन लेने के लिए थाना फोकल प्‍वाइंट का चक्‍कर लगा रहा था। लेकिन हर बार पुलिस उसे भगा देती थी। घर में राशन खत्‍म में ऐसे में हताश हो कर उसके पति ने फंदा लगा कर आत्‍म हत्‍या कर ली।
उधर, जिलाधिकारी का कहना है कि प्रशासन के पास राशन के लिए अजीत का कोई आवने नहीं था। फिर भी मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी। सरकारी राशन न मिलने से आहत हो अजीत के आत्‍म हत्‍या करने की खबर मिलते मजदूर नेता घरने पर बैठ गए। हलांकि प्रशासन ने उन्‍हें जांच और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने का भरोसा दे धरना खत्‍म करवा दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments