सुशांत सिंह राजपूत की याद में फिर इमोशनल हुए महेश शेट्टी, कहा- बहुत कुछ कहना सुनना बाकी रह गया

He was always so full of life': Sushant Singh Rajput's best friend ...दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) अब इस दुनिया में नहीं हैं। उनके निधन से फैंस के साथ टीवी और फिल्म इंडस्ट्री भी स्तब्ध है। इस बीच सुशांत के बेस्ट फ्रेंड और टीवी एक्टर महेश शेट्टी (Mahesh Shetty) एक बार फिर उन्हें याद कर भावुक हो गए। 
सुशांत को याद करते हुए महेश ने गुरूवार को इंस्टाग्राम पर एक इमोशनल पोस्ट शेयर किया है। सुशांत के साथ तस्वीर शेयर करते हुए महेश ने लिखा, 'बहुत कुछ कहना और सुनना बाकी रह गया था। जब मैं तुमसे दोबारा मिलूंगा तो तुम्हें सब बताऊंगा।' मालूम हो, सुशांत और महेश बेहतरीन बांड शेयर करते थे। 

महेश ने सुशांत को किया याद

महेश ने लिखा, 'ये बेहद अजीब फीलिंग है, मेरे पास कहने को बहुत कुछ है, लेकिन मैं कह नहीं पा रहा हूं। कई बार आप अपने जीवन में कुछ ऐसे लोगों से मिलते हैं, जिनके साथ आपका बांड काफी गहरा हो जाता है, जैसे कि उस इंसान को आप बहुत पहले से जान रहे होते हैं। तब ये एहसास होता है कि भाई बनने के लिए आपका एक ही मां के गर्भ से पिअदा होना जरूरी नहीं है। हम भी इसी तरह से मिले। मैं और सुशांत ऐसे ही भाई थे।'
उन्होंने लिखा, 'अगर हम फिल्म सिटी में साथ खाना न खाते और लंबी सैर पर नहीं गए होते तो हमें पता ही नहीं चलता कि कैसे और कब हम एक-दूसरे के जीवन का अभिन्न हिस्सा बन गए। हमारी सारी यादें, यात्राएं, हमारी अंतहीन चैट, खाना, फिल्में, किताबें, प्रकृति, विज्ञान, संबंध और बहुत सारी बकवास। सुशांत एक छोटे बच्चे की तरह था जोकि एक कैंडी शॉप पर खड़ा रहता है। ऐसी जबर्बस्त एनर्जी और सपने जो कभी भी खत्म नहीं होते। उसने मुझे प्यार का एहसास कराया। हमारे बीच एक अनोखा बंधन था। मुझे ख़ुशी है कि हमारे रिश्ते को स्नेह या सार्वजनिक मान्यता के किसी भी सार्वजनिक प्रदर्शन की आवश्यकता नहीं थी। यह हम दोनों के लिए ये रिश्ता पवित्र था।'
महेश ने ये भी लिखा, 'उसकी सफलता, उसकी उपलब्धियां, उसका काम एकदम पूर्णतावादी था। चाहे जो भी कहूं, मैं कभी भी उसकी प्रतिभा की व्याख्या नहीं कर पाऊंगा। मैंने उसकी हर एक दिलम को बड़े पर्दे पर देखा, लेकिन मैं कभी उसकी बयां नहीं कर सकता कि मुझे ये देखकर कितनी खुशी हुई। उसने अपने सभी किरदारों के लिए कड़ी मेहनत की। उसकी आंखों में सपने के साथ जीवन से भरा था।'
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments