सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर लगी कवर फोटो कहती थी उनके दिल का हाल, पेंटर ने भी की थी आत्महत्या

सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को मुंबई स्थित अपने घर में फांसी लगा कर जान दे दी। बताया जा रहा है कि एक्टर कुछ महीनों से डिप्रेशन के शिकार थे। हलांकि उन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया इस बात की कोई जानकारी नहीं मिली है।
सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर लगी कवर फोटो कहती थी उनके दिल का हाल, पेंटर ने भी की थी आत्महत्या
छोटे समय में बड़ा नाम कमाने वाले एक्टर सुशांत सिंह राजपूत अब इस दुनिया में नहीं रहे। रविवार की सुबह मुंबई स्थित अपने घर पर उन्होंने आत्महत्या कर ली। सुशांत के चले जाने से पूरा देश हिल गया। बॉलीवुड इंडस्ट्री के लोग अभी तक सदमे में है। हलांकि सुशांत सिंह राजपूत ने इतना बड़ा और दर्दनाक कदम क्यों उठाया इस चीज की जानकारी अभी तक मिल नहीं पायी है। 
शुरुआती जांच के बाद सामने आया है कि सुशांत काफी समय से डिप्रेशन से जूझ रहे थे। डिप्रेशन का कारण क्या था इसकी भी जानकारी नहीं मिली है। हलांकि अगर सुशांत का सोशल प्रोफाइल खंगाला जाए तो इस बात का सूबूत मिलता है कि उनके दिमाग में उथल-पुथल चल रही थी। उनकी मौत का संबंध कहीं ना कहीं इससे स्थापित किया जा सकता है। 
सुशांत सिंह राजपूत सोशल मीडिया पर बीते कुछ दिनों से बिल्कुल भी एक्टिव नहीं थे। सुशांत के ट्विटर अकाउंट की बात करें तो आखिरी ट्वीट 27 दिसम्बर 2019 में किया गया था। एक्टर की ट्विटर प्रोफाइल देखकर एक चौंकाने वाला फैक्ट सामने आया है। 
सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर लगी कवर फोटो कहती थी उनके दिल का हाल, पेंटर ने भी की थी आत्महत्या
रविवार को सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के अपने घर में खुदखुशी कर ली।

पेंटर ने ले ली थी अपनी जान

सुशांत ने अपने ट्विटर हैंडिल पर जो अपनी कवर पिक लगाई है वह मशहूर पेंटर विंसेट वैन गॉग ने बनाई थी। बताया जाता है कि विंसेट खुद डिप्रेशन के शिकार थे। उन्होंने साल 1889 में डिप्रेशन के इलाज के समय इस स्टारी नाइट पेंटिंग को बनाया था। फिर एक साल बाद 1890 में उन्होंने खुद को गोली मार कर हत्या कर ली थी। 
सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर लगी कवर फोटो कहती थी उनके दिल का हाल, पेंटर ने भी की थी आत्महत्या
सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान एक साथ फिल्म केदारनाथ में दिखाई दिए थे।

डिस्चार्ज होने के बाद भी थे डिप्रेशन के शिकार

बताया जाता है कि इस पेंटिग को बनाते समय भी वो बहुत ज्यादा डिप्रेशन में थे। उन्हें वान गाग हॉस्पिटल में भी रखा गया था। जहां उन्हें दूसरे रोगियों से ज्यादा स्वतंत्रता हासिल थी। बताया जाता है कि पेंटर ने कभी अपने फिजीकल हेल्थ पर ध्यान नहीं दिया। ना ठीक तरह से खाते थे ना रेस्ट करते थे। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद वो होम्योपैथिक डॉक्टर पॉल गैचेत की देखरेख में आए। मगर उनका डिप्रेशन जारी रहा। फिर 27 जुलाई 1890 में उन्होंने खुद को गोली मार कर जान दे दी।
सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर लगी कवर फोटो कहती थी उनके दिल का हाल, पेंटर ने भी की थी आत्महत्या
सुशांत सिंह राजपूत बिहार से थे जिन्होंने मुंबई में अपने दम पर इतना नाम कमाया था।
सुशांत सिंह राजपूत ने अपने छोटे से करियर में कई शानदार किरदार निभाएं। इनमें 'काई पो छे', 'शुद्ध देसी रोमांस', 'एमएस धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी', 'केदारनाथ' और 'छिछोरे' जैसी फिल्में शामिल हैं। सुशांत सिंह राजपूत जैसी शख्सियत और उनके काम को लोग कभी नहीं भुला पाएंगे।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments