डबल मर्डर में चार हिरासत में, बाकी की तलाश


डबल मर्डर में चार हिरासत में, बाकी की तलाश
शहर से सटे चिनौर गांव तिराहे पर रविवार रात पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतक की पत्नी गीता ने वालीबाल खिलाड़ी, एअर फोर्स कर्मचारी, वकील समेत छह लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मंगलवार को मृतकों के परिजनों ने हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। शव का अंतिम संस्कार किया। पुलिस का दावा है कि जल्द ही हत्यारोपी गिरफ्त में होंगे। दो टीमें लगा दी गई हैं। वहीं, बताया जा रहा है कि पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है। अभी पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है।क्षेत्र के चिनौर गांव निवासी गीता देवी ने ओसीएफ स्टेट के निखिल, आवास विकास कालोनी के आदर्श, गदियाना के विनोद कुमार, चिनौर गांव के प्रभात, प्रभात का भाई रोहित और उसके पिता गंगा प्रसाद के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। गीता ने बताया कि बड़ा बेटा आकाश और छोटा बेटा प्रकाश रविवार रात अटसलिया गांव से घर आ रहा था। केंद्रीय विद्यालय की मोड़ के सामने से आ रही बाइक से टक्कर हो गई। निखिल व आदर्श ने बेटों को गालियां दीं। चिनौर तिराहे के पास निखिल व आदर्श ने साथी प्रभात और विनोद को बुला लिया। बेटे आकाश ने पिता कैलाश को फोन कर दिया। पति ने मौके पर पहुंच विरोध किया। तब प्रभात ने अपने पिता गंगा प्रसाद व भाई रोहित को बुला लिया। वह लोग असलहों के साथ आए। प्रभात ने पिता से रायफल छीन फायर कर दिया। रोहित ने भी फायर कर दिया। जिस कारण पति कैलाश और बेटे आकाश की गोली लगने से मौत हो गई।
गुजरात से आया फौजी भाई रो पड़ा
मृतक कैलाश का भाई रामनिवास फौज में है। वह गुजरात में तैनात है। परिजनों ने रामनिवास को घटना की जानकारी दी। मंगलवार की देर शाम तक वह घर आ पाया। भाई कैलाश के शव को देख बिलख पड़ा। उसे देख पूरा परिवार रो पड़ा। मृतक की पत्नी गीता को परिवार के लोगों ने संभाला।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments