फर्जी एसआइ बन रचायी शादी, 12 लाख लिया दहेज, दो साल बाद खुला राज

फर्जी एसआइ बन रचायी शादी, 12 लाख लिया दहेज, दो साल बाद खुला राज
भभुआ (कैमूर) : सीआइएसएफ का फर्जी सब इंस्पेक्टर बनकर रिटायर्ड बीएमपी के दारोगा की बेटी से 12 लाख रुपये लेकर शादी रचाने मामले में युवक को गिरफ्तार किया गया है. युवक भगवानपुर थाना क्षेत्र के ओरगांव का रहनेवाला है. इधर, घटना को लेकर राज खुलने पर कुदरा थाना क्षेत्र के राम डिहरा गांव निवासी व रिटायर्ड बीएमपी के सब इंस्पेक्टर की बेटी ने महिला थाने में आरोपित पति व पति के बड़े भाई सहित पांच लोगों के खिलाफ थाने में प्राथमिकी का आवेदन दिया है. पीड़िता ने बताया कि शादी की बात चल रही थी. इसी दौरान जब उसके पिता द्वारा सीआइएसफ के ड्रेस में फोटो दिखायी गयी.
आइडी कार्ड भी दिखाया कर बताया कि युवक सीआइएसफ में सब इंस्पेक्टर है. इसके बाद 11 जून 2019 को उसके पिता ने 12 लाख रुपये उपहार देकर शादी कर दी.एक टेलर मास्टर को फर्जी अधिकारी बता कर पत्नी से करा दी बातपीड़ित युवती ने बताया कि शादी के बाद वह महज 15 दिन ससुराल में रही. उसने देखा कि उसका पति ड्यूटी पर नहीं जा रहा है. जब पूछा कि आप ड्यूटी पर क्यों नहीं जा रहे हैं, तो बताया कि एक बड़े अधिकारी को मिला कर सेटिंग गेटिंग कर लिया है.
इसलिए अभी ड्यूटी पर नहीं जाना है. जब पत्नी जिद करने लगी, तो आरोपित ने मोबाइल फोन पर ऑडियो कॉन्फ्रेसिंग से भगवानपुर के टेलर मास्टर को अधिकारी बना कर उससे बात करा दी.बेटे को गिरफ्तार देख मां एसपी कार्यालय में बेहोशमहिला थाने की पुलिस के द्वारा जब आरोपित को गिरफ्तार कर एसपी कार्यालय में लाया गया और जब उसकी मां को यह पता लगा कि उसका बेटा जालसाजी करने के मामले में जेल जा रहा है, तो बेटे के हाथों में हथकड़ी देख घबरा गयी और एसपी कार्यालय में ही बेहोश होकर गिर गयी.
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments