5 ऐसी पारियां जिसने विरोधी टीम के जबड़े से छीन ली थी जीत, नंबर 1 पारी सदियों तक रहेगी याद

क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेला कहा जाता है. क्रिकेट मैच के कब परिस्थितियां बदल जाये कुछ नहीं कहा जा सकता है. क्रिकेट के इतिहास में कई ऐसे मौके आये जब किसी एक खिलाड़ी ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए लगभग हाथ से निकल चुके मैच में अपनी टीम को जीत दिलाई. आज के इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी ही पारियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने विरोधी टीम के जबड़े से जीत ही छीन ली थी. आइये जानते हैं इनके बारे में-
नंबर 5- भारत के विरुद्ध खेली गयी जावेद मियांदाद की पारी
1986 में शारजाह में खेले गये भारत और पाकिस्तान के एक मुकाबले में पाकिस्तान के खब्बू बल्लेबाज जावेद मियांदाद ने मैच के आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर मैच पाकिस्तान के नाम कर दिया था. मियांदाद ने इस मुकाबले में तूफानी अर्द्धशतक जड़ा था.
नंबर 4- माइक हसी की आतिशी पारी

Third party image reference
ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के मध्य खेले गये टी 20 विश्व कप 2010 के एक मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को अंतिम ओवर में जीत के लिए 19 रन की जरूरत थी. ऐसे में माइक हसी ने 4 गेंद पर 3 छक्के जड़ते हुए २२ रन बनाकर पाकिस्तान के जबड़े से मैच छीन लिया.
नंबर 3- दिनेश कार्तिक की बांग्लादेश के विरुद्ध खेली गयी पारी

Third party image reference
दिनेश कार्तिक ने निदहास ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश के विरुद्ध मात्र 08 गेंदों पर नाबाद 29 रन की पारी खेलकर लगभग हार चुके मैच में भारतीय टीम को जीत दिलाई.
नंबर 2- इंग्लैंड के विरुद्ध खेली गयी कार्लोस ब्रेथवेट की पारी

Third party image reference
टी 20 विश्व कप 2016 के फाइनल मुकाबले में वेस्टइंडीज की टीम को मैच अपने नाम करने के लिए अंतिम ओवर में 22 रन की दरकरार थी. ऐसे में कार्लोस ब्रेथवेट ने मोर्चा संभालते हुए स्टोक्स की लगातार 4 गेंदों पर 4 छक्के जड़कर वेस्टइंडीज को विश्व चैंपियन बना दिया.
नंबर 1- रोहित शर्मा के द्वारा न्यूजीलैंड के विरुद्ध खेली गयी पारी
न्यूजीलैंड के विरुद्ध कुछ माह पहले खेले गये वनडे मैच में भारत को सुपर ओवर में जीत के लिए 18 रन का टारगेट मिला. ऐसे में भारतीय बल्लेबाजों ने शुरुआती 4 गेंदों पर 08 रन बनाये. भारत इस मैच में हार की तरफ अग्रसर हो रहा था. रोहित ने फिर अंतिम 2 गेंदों पर 2 छक्के जड़कर मैच भारत के नाम कर दिया.
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments