पूरे देश में लॉकडाउन के बीच पुलिस की ड्यूटी निभा रहे इन 4 खिलाड़ियों ने क्या कहा, जानिए

2007 T20 World Cup hero Joginder Sharma joins battle against ...खेल के मैदान पर देश का नाम रोशन करने वाले कुछ भारतीय खिलाड़ी ऐसे हैं। जो कि इस समय कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में पूरे देश के लॉकडाउन के दौरान अपनी पुलिस की ड्यूटी निभा कर लोगों को अपने घरों में रहने का आग्रह कर रहे हैं। इन खिलाड़ियों में शामिल है, विश्व कप विजेता क्रिकेटर जोगिंदर शर्मा, भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान राजपाल सिंह, राष्ट्रमंडल खेल स्वर्ण पदक विजेता मुक्केबाज अखिल कुमार और एशियाई खेल चैंपियन कबड्डी खिलाड़ी अजय ठाकुर। यह सभी खिलाड़ी पूर्ण रूप से पुलिस अधिकारी हैं और उन्हें खेल जगत में उनकी उपलब्धियों की वजह से यह नौकरी मिली है। ऐसे में पुलिस की ड्यूटी निभा रहे इन सभी खिलाड़ियों ने क्या कहा ? आइए जानते हैं :-

Third party image reference
मोहाली में डीएसपी के पद पर कार्यरत राजपाल सिंह ने कहा मैं पुलिस की पूर्ण रूप से नौकरी कर रहा हूं। इस वजह से मेरा मुख्य काम लॉकडाउन का पालन कराना है। इसके साथ ही जरूरतमंद लोगों को जरूरी चीजें मुहैया कराने पर हमारा ध्यान लगा हुआ है। ऐसे समय में संयम सबसे बड़ी चीज है और पुलिस का मानवीय चेहरा भी लोगों को देखने को मिल रहा है। हम बस यही कोशिश कर रहे हैं कि लोगों को संयम रखने में मदद करें और इस तकलीफ में निकलने में मदद करें।

Third party image reference
साल 2007 में विश्व कप टी20 फाइनल के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी ओवर करने वाले जोगिंदर शर्मा ने कहा कि मैं 2007 से हरियाणा पुलिस में डीएसपी हूं। इस समय हमारे सामने एक अलग तरह की चुनौती सामने है। हमारी ड्यूटी सुबह 6:00 बजे से शुरू हो जाती है। जिसमें लोगों को जागरुक करना, बंद का पालन कराना और चिकित्सा सुविधाएं देना शामिल है।

Third party image reference
स्वर्ण पदक विजेता अखिल कुमार ने कहा कि लोग हमारा सहयोग कर रहे हैं और जरूरी सामान मिलने से ज्यादा घबराहट नहीं हो रही है। लॉकडाउन का सही से पालन करने के बाद ही यह वायरस रुकने में सफल हो पाएगा। लोग भी यह समझ रहे हैं।
वहीं रेवाड़ी में तैनात एशियाई कांस्य पदक विजेता जितेंद्र कुमार ने कहा कि हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहे हैं और हम जमीन से जुड़े हुए हैं। हमें पता है कि भूख क्या होती है। हम मास्क, सैनिटाइजर और दस्ताने लेकर चलते हैं। लेकिन सबसे बड़ी सुरक्षा यही है कि लोग सड़क पर नहीं उतरे। खिलाड़ी होने की वजह से मुझे पता है कि संयम की आवश्यकता क्या होती है। इसकी वजह से मुझे इन परिस्थिति में लोगों से निपटने में काफी मदद मिल रही हैं।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments