Sridevi Death Anniversary: जाने उस काली रात की सच्चाई, जिसने छीनी बॉलीवुड से उसकी चांदनी

Sridevi Death Anniversary: जाने उस काली रात की सच्चाई, जिसने छीनी बॉलीवुड से उसकी चांदनी
नई दिल्ली। बॉलीवुड की एक ऐसी ‘चांदनी’ ( Chandni ) जिसने अपनी खूबसूरती से अपनी चुलबुलाहट से ना जाने कितने लोगों के दिलों को रोशन किया होगा। अपनी अदाकारी से हिंदी सिनेमाजगत को एक नई परिभाषा दी। हम बात कर हैं लाखों दिलों की धड़कन ‘श्रीदेवी’ ( Sridevi ) की। आज श्रीदेवी की दूसरी पुण्यतिथि है। दो सालों बाद इस मनहूस खबर पर यकीन नहीं होता की श्रीदेवी हमारे बीच नहीं है। ऐसा लगता है हम जल्द ही उन्हें किसी फिल्म में देखेंगे। लेकिन ये दिन हमारें ख्वाब को झट से तोड़ देता है। 24 फरवरी 2018 के दिन ही श्रीदेवी की मौत की खबर ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। लोगों को यकीन ही नहीं हो रहा था कि उनकी चांदनी उन्हें छोड़ कर चली गई है। जानते हैं आखिर उस काली रात को श्रीदेवी के साथ हुआ क्या था।
sridevi death anniversary
दरअसल, श्रीदेवी अपने भांजे ‘मोहित मारवाह’ ( Mohit Marwah ) की शादी में शरीक होने के लिए पूरे परिवार के साथ दुबई गई थी। शादी के खत्म होते ही सभी मुंबई वापस आ गए थे। लेकिन शादी में थकावट के चलते श्रीदेवी ने दुबई में रोकना ज्यादा बेहतर समझा। साथ ही वो चाहती थी कि वो अपनी लाडली बेटी जान्हवी कपूर के लिए शॉपिंग करें। श्रीदेवी पति बोनी कपूर ( Boney Kapoor ) संग दुबई में थी। दोनों ने एक होटल में साथ खाना खाने का प्लान किया था। डिनर पर जाने के लिए जैसे ही श्रीदेवी तैयार होने के लिए गई वैसे ही उनके साथ दर्दनाक हादसा हुआ और उन्होंने वहां अंतिम सांस ली। वहीं दूसरी तरफ बोनी कपूर श्रीदेवी का बाहर आने का इंतजार करते रहे। लेकिन जब तक बोनी कपूर को कुछ समझ आता तब तक बहुत देर हो चुकी थी।
sridevi death anniversary
श्रीदेवी की मौत दुबई के होटल में हुई थी। किसी के लिए भी इस बात को हजम कर पाना बहुत मुश्किल सा हो गया था की श्रीदेवी की मौत बाथटब में गिरने की वजह से हुई थी। वहीं दूसरी ओर एक सुपरस्टार की मौत टब में गिरने की बात से कहीं ना कहीं एक शक की सुई पति बोनी कपूर की ओर भी घुम रही थी, क्योंकि जिस वक्त श्रीदेवी की मौत हुई उस समय उनके साथ केवल बोनी कपूर ही मौजूद थे। दुबई पुलिस ने कड़ा रूख अपनाते हुए बोनी कपूर की जांच करनी शुरू कर दी, जांच पड़ताल पूरी होने के बाद दुबई पुलिस ने उन्हें मुंबई जाने दिया । श्रीदेवी की मौत की जांच करते हुए पुलिस ने पाया कि उनके सिर पर चोट के निशान थ। शुरूआती रिपोर्ट्स के मुताबिक बताया जा रहा था कि उनकी मौत हार्टअटैक के चलते उनकी मौत हुई है। लेकिन दुबई पुलिस ने जांच में इस बात को खारिज करते हुए बताया कि उनकी मौत बाथटब में डूबने से ही हुई है और उनके सिर पर चोट के निशान भी मिले थे। सारी जांच पड़ताल के बाद 27 फरवरी को श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को भारत भेजने के अनुमति दी गई।
sridevi death anniversary
श्रीदेवी की अंतिम विदाई उन्हीं के अनुसार हुई। बोनी कपूर ने बताया था कि बातों ही बातों में एक दिन श्रीदेवी ने कहा कि था कि जब कभी मैं मर जाऊं तो मेरी अंतिम विदाई में सफेद फूलों को का इस्तेमाल करना। बोनी कपूर ने अपनी पत्नी की इस ख्वाहिश को पूरा करते हुए ठीक उसी तरह से श्रीदेवी को अंतिम विदाई दी। अंतिम विदाई के दिन सामने आई तस्वीरों में श्रीदेवी बिल्कुल दुल्हन जैसी सजी दिखाई दी। लाल जोड़े के साथ मांग में सिंदूर से सजी श्रीदेवी को देख लोगों के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे। श्रीदेवी को गार्ड ऑफ ऑनर सम्मान के साथ विदाई दी गई।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments