पुलवामा हमले की बरसी पर शहीद की पत्नी ने बयां किया दर्द, बोली सास-ससुर...


Third party image reference
14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुआ आतंकी हमला शायद ही कोई भुला पाया होगा। जिस हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे। जो हमला जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर सीआरपीएफ के जा रहे काफिले पर हुआ था। इस सीआरपीएफ काफिले में करीब 2500 जवान शामिल थे।
ऐसे में आज हम आपको इस हमले में शहीद हुए महाराष्ट्र के जवाली के धेवा गांव के तिलक राज की, जिन्होंने 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में अपनी जान गवा दी थी. लेकिन आज आज तिलक राज हमारे दिलों में जिंदा हैं.

Third party image reference
पुलवामा हमले की बरसी पर शहीद की पत्नी ने बयां किया दर्द
पुलवामा हमले की बरसी पर तिलक राज की पत्नी सावित्री देवी मिडिया से चर्चा करते हुए बताया की, उन्हें अपने पति तिलक राज की सहादत पर गर्व हैं. पति की याद भुलाना तो मुमकिन नहीं है, लेकिन अपने आपको किसी तरह संभाला है.

Third party image reference
बता द की, पुलवामा हमले उनके पति की सहादत के बाद राज्य के मुख्यमंत्री ने बच्चों व बूढ़े सास-ससुर का सहारा बनने के लिए करुणामूलक आधार पर छह माह के भीतर सरकारी नौकरी दे दी थी. उन्होंने अपने पति को यद् करते हुए बताया की, मेरे पति एक कलाकार ही नहीं थे बल्कि उनमें देशभूमि की रक्षा का जज्बा भी कूट-कूट कर भरा था.
वहीँ शहीद के पिता लायक राम व माता विमला देवी ने अपने बेटे की सहादत पर बताया की, देश के लिए बेटे की सहादत उन्हें अपने बेटे पर नाज़ हैं
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments