शादीशुदा अभिनेता के प्यार में पड़ गईं थीं स्मिता, ये थी आखिरी इच्छा, जानकर रो पड़ेंगे आप


Third party image reference
स्मिता पाटिल का हिंदी सिनेमा में योगदान बहुत ही सराहनीय रहा. स्मिता पाटिल ने फिल्म चरणदास चोर से अपने करियर की शुरुआत की थी. उन्होंने फिल्मों में बोल्ड सीन देने से भी परहेज नहीं किया. असल जिंदगी में वह बहुत ही शांत स्वभाव की महिला थी. लेकिन राज बब्बर के साथ रिलेशनशिप को लेकर उनकी हमेशा आलोचना हुई. उनके ऊपर राज बब्बर और नादिरा का घर तोड़ने का इल्जाम लगा.

Third party image reference
स्मिता पाटिल की वजह से ही राज बब्बर ने अपनी पहली पत्नी नादिरा को छोड़ दिया. राज बब्बर ने नादिरा से 1975 में शादी की थी. लेकिन फिल्म भीगी पलकें की शूटिंग के दौरान राज बब्बर नादिरा के प्यार में पड़ गए. स्मिता पाटिल को वायरल इंफेक्शन की वजह से ब्रेन इंफेक्शन हो गया. लेकिन जब बेटे प्रतीक का जन्म हुआ तो वह घर आ गई. हालांकि उनका इंफेक्शन बढ़ता गया. फिर भी वह हॉस्पिटल जाने के लिए तैयार नहीं हुई.

Third party image reference
स्मिता हमेशा कहती थी कि मैं अपने बेटे को छोड़कर अस्पताल नहीं जाऊंगी. लेकिन जब इंफेक्शन बढ़ गया तो उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया. धीरे-धीरे उनके शरीर के अंगों ने काम करना भी बंद कर दिया. जीवन के अंतिम समय में उनका राज बब्बर के साथ रिश्ता भी खराब हो गया था.

Third party image reference
स्मिता को हमेशा से ही सुंदर दिखने का शौक था. वह अपनी मेकअप आर्टिस्ट से काफी घुली-मिली थी. उन्होंने अपने मेकअप आर्टिस्ट से एक बार यह कहा था कि जब मैं मर जाऊं तो मुझे दुल्हन की तरह ही सजाना और दुल्हन के रूप में मेरा अंतिम संस्कार करना. इसी वजह से अंतिम संस्कार से पहले उनके शव को दुल्हन की तरह सजाया गया.
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments