इस वजह से श्रीदेवी ने रजनीकांत के लिए रखा था ७ दिनों का व्रत

दोस्तों, बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवीजी आज हमारे बीच नहीं है। श्रीदेवी सिर्फ फिल्मों में ही नहीं, बल्कि अपनी असल जिंदगी में भी एक सुपरस्टार थी। उनके जीवन से जुड़े कई किस्से है जिनकी वजह से उनके चाहने वाले हमेशा उन्हें याद करते रहेंगे। ऐसा ही एक किस्सा आज हम आपको बताने जा रहे है।

Third party image reference
श्रीदेवी ने अपने करियर की शुरुवात साउथ इंडियन फिल्मों से की थी और उनकी पहली ही फिल्म में उनके साथ साउथ के भगवान कहे जाने वाले सुपरस्टार रजनीकांत ने काम किया था।

Third party image reference
साल १९७६ में महज १३ साल की उम्र में श्रीदेवी ने कमल हासन और रजनीकांत के साथ फिल्म 'मोन्दु मुदिचु' में काम किया था। कहा जाता है कि इस फिल्म के लिए श्रीदेवी को रजनीकांत से भी ज्यादा फीस दी गयी थी।

Third party image reference
इसके बाद श्रीदेवी और रजनीकांत ने एक साथ करीब २५ फिल्मों में अभिनय किया है। इनमें से अधिकतर फ़िल्में कन्नड़, मलयालम, तेलगु और तमिल भाषा में की है। बॉलीवुड में रजनीकांत और श्रीदेवी ने एकसाथ फिल्म फ़रिश्ते, चालबाज़, भगवान दादा, जुल्म और गैर कानूनी जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया है।

Third party image reference
'हिन्दुस्तान टाइम्स' को दिए गए एक इंटरव्यू में खुद रजनीकांत ने इस बात की जानकारी दी थी कि जब वह साल २०११ में अपनी फिल्म 'राणा' की शूटिंग कर रहे थे, तो उस दौरान उनकी तबियत बहुत ज्यादा ख़राब हो गयी थी। परेशानियां इतनी बढ़ गयी थी कि उन्हें इलाज के लिए भारत से सिंगापुर ले जाने की सलाह दी गयी।

Third party image reference
जब रजनीकांत की हालत की खबर श्रीदेवी को लगी तो उन्होंने तुरंत शिर्डी जाने का तय किया। उन्होंने शिर्डी के साईबाबा से प्रार्थना की और एक सप्ताह के उपवास भी रखा ताकि रजनीकांत जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। इलाज के बाद जब रजनीकांत स्वस्थ होकर भारत आये थे, तो सबसे पहले उनसे मिलने के लिए श्रीदेवी अपने पति के साथ पहुंची थी।

Third party image reference
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments