बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर हमेशा अपने ट्वीट् को लेकर काफी सुर्खियों में रहते हैं. एक्टर अक्सर समसामयिक मुद्दों पर अपनी राय जनता के सामने पेश करते नजर आते हैं. मगर एक बार फिर अनुपम खेर का एक ट्वीट खूब वायरल हो रहा है. दरअसल, अनुपम खेर ने अभी हाल ही में, अपने ट्विटर हैंडल से एक पुराना फोटो शेयर किया है औप यह फोटो यश चोपड़ा की फिल्म 'विजय के दौरान का है. इस फोटो में अनिल कपूर, ऋषि कपूर , हेमा मालिनी, राजेश खन्ना और मिनाक्षी शेषाद्री समेत कई लोग नजर आ रहे हैं. अनुपम खेर (Anupam Kher) का ट्वीट हुआ वायरलThird party image reference अनुपम खेर ने अपने इस पुराने फोटो को शेयर करते हुए लिखा, 'यश चोपड़ा की फिल्म 'विजय' के दौरान की ग्रुप फोटो. मैं उस समय 33 साल का था. इस फिल्म में मैंने हेमा मालिनी के पिता, राजेश खन्ना के ससुर और अनिल कपूर के दादा का किरदार निभाया था. मूल रूप से मेरी भूमिका भारतीय सिनेमा के सच्चे अभिनेता द्वारा निभाई जानी थी.' अनुपम खेर के इस ट्वीट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर ने अपने फिल्मी करियर में 500 से अधिक फिल्मों में काम किया है. जिसके लिए उन्हें 2 नेशनल अवार्ड और 8 फिल्मफेयर अवार्ड से नवाजा गया है. वहीं, अगर वर्क फ्रंट की बात करें तो अभी हाल ही में अनुपम खेर फिल्म 'वन डे में नजर आए थे. इस फिल्म में उनके साथ एक्ट्रेस ईशा गुप्ता भी मुख्य भुमिका में नजर आई थीं. इससे पहले अनुपम खेर ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के जीवन पर बनी फिल्म 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' में भी मुख्य भूमिका अदा की थी.

बाॅलीवुड़ अभिनेता ओम पुरी और नसीरुद्दीन शाह की दोस्ती एनएसडी के वक्त से थी जहां उन्होंने 1970 से 1973 तक एक साथ चार साल एक्टिंग की पढ़ाई की. उसके बाद एफटीआईआई, पुणे में भी दोनों साथ पढ़े. फिर 1976 में जब ओम पुरी मुम्बई उस वक्त की बंबई शिफ्ट हुए तो उन्होंने नसीरूद्दीन शाह के साथ एक विज्ञापन फिल्म में भी काम किया जिसे डायरेक्ट किया था गोविंद निहलानी ने.

Photo - Social MediaThird party image reference
इस विज्ञापन में दोनों ने कारखाने में काम करने वाले मजदूरों का रोल किया था और उसके बाद श्याम बेनेगल जब अपनी फिल्म ‘भूमिका’ डायरेक्ट कर रहे थे जब ऐसा वाकया हुआ जिसने इन दोनों की दोस्ती पक्की कर दी.

Photo - Social MediaThird party image reference
फिल्म के सेट के पास एक ढाबे में दोनों डिनर करने पहुंचे थे. तब वे बैठे थे कि ओम पुरी ने देखा एनएसडी और एफटीआईआई में उनके साथ पढ़ा नसीरूद्दीन शाह का बहुत ही जिगरी दोस्त राजेंद्र जसपाल तेजी से आ रहा है. वो आया और उसने नसीर की पीठ पर किसी चीज से मारा. जब जसपाल ने अपना हाथ उठाया तो ओम ने देखा कि उसके हाथ में चाकू है.

ओम पुरी और नसीर.Third party image reference
इससे पहले कि राजेंद्र जसपाल फिर से वार कर पाता ओम पुरी ने उसकी बांह पकड़ ली. लेकिन जसपाल को काबू कर पाना ओम के बस का नहीं था फिर भी उन्होंने संघर्ष किया जब तक कोई मदद के लिए न आ जाए. इतने में ख़ून से सन चुके नसीरुद्दीन शाह बाहर की ओर भागे. फिर पुलिस आई और जसपाल को ले गई.

ओम पुरी और नसीर.Third party image reference
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments