बचपन मे बॉलीवुड पर राज करते थे ये 9 सितारे, बड़े होकर जी रहे हैं गुमनामी की जिन्दगी

दोस्तों बॉलीवुड फिल्म जगत मे कई ऐसे कई सितारे है जो फिल्मों में आने से पहले बाल कलाकार कई फिल्मों में काम कर चुके हैं। लेकिन इन्हीं बाल कलाकारों में कुछ लोग ऐसे हैं, जो बतौर बाल कलाकार तो लोगों के दिलों में राज करते थे। लेकिन बड़े होकर कहीं गुमनामी के अंधेरे में खो गए। आइये आज हम आपको कुछ ऐसे ही अभिनेताओं के बारे मे बताते है, जो अब गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं। आईये जानते इन सितारों के बारे में।

Third party image reference
1- झनक शुक्ला - बॉलीवुड अभिनेता शाहरूख खान और प्रीति जिंटा स्टारर फिल्म कल हो ना हो में बहुत क्यूट की लड़की को देखा होगा। लेकिन बस इसकी तस्वीर ही याद होगी, बता दें कि इनका नाम झनक शुक्ला है। बतौर बाल कलाकार वो काफी फेमस थी लेकिन अब शायद ही वो किसी टीवी सीरियल या फिल्म में नजर आती हों।

Third party image reference
2- शफीक सैयद - लगभग 20 साल पहले मीरा नायर की फिल्म "सलाम बॉम्बे" बहुत चर्चित हुई थी, और विदेशी फिल्म की श्रेणी में भारत की तरफ से ऑस्कर में नामांकित भी हुई थी। इस फिल्म में सबसे ज्यादा वाह वाही लूटी थी एक चाय वाले की भूमिका निभाने वाले एक बाल कलाकार ने जिसका नाम ‘शफीक सैयद’ था,पर इस फिल्म के बाद सैयद को मुंबई में कोई काम नहीं मिला। थक हार कर 1993 में वो बैंगलोर चले गए और दुःख की बात ये है कि इतनी प्रतिभा होने के बाद भी सैयद आज ऑटो चला रहे हैं।

Third party image reference
3- रुबीना अली - फिल्म स्लमडॉग मिलियनेयर में लतिका के बचपन का किरदार निभाने वाली छोटी सी बच्ची रुबीना अली अब 19 साल की हो चुकी हैं। आठ ऑस्कर पुरस्कार जीतने वाली रूबीना आज कहीं खो सी गई है

Third party image reference
4- अजहरुद्दीन मोहम्मद इस्माइल - ऑस्कर विजेता फिल्म 'स्लमडॉग मिलिनेअर' में नायक सलीम के बचपन की भूमिका निभाने वाले अजहरुद्दीन मोहम्मद इस्माइल का नाम अब सुनने को भी नहीं मिलता है। ऐसे बाल कलाकार जो खो गए गुमनामी के अंधेरे में !! ऐसे बाल कलाकार जो खो गए गुमनामी के अंधेरे में !!

Third party image reference
5- जुगल हंसराज - साल 1983 में आई फिल्म ‘मासूम’ में एक प्यारे से बच्चे का किरदार जुगल ने ही निभाया था। और इसके बाद वह फिल्म ‘मोहब्बतें’ में नजर आए थे। बता दें कि जुगल ने कई फिल्मों में काम किया, लेकिन वह इतने सफल कभी नहीं हो पाए।

Third party image reference
6- मास्टर राजू - यहां हम राजू श्रेष्ठ की बात कर रहे हैं। लोग उन्हें प्यार से मास्टर राजू कहते थे। मास्टर राजू यानी राजू श्रेष्ठ ने 5 साल की छोटी-सी उम्र से अपने करियर की शुरुआत की और नैशनल अवॉर्ड भी जीता। मास्टर राजू ने अमर प्रेम, अभिमान, चितचोर, वो सात दिन जैसी कई लोकप्रिय फिल्मों में अभिनय किया था।

Third party image reference
7- अविनाश मुखर्जी - छोटे पर्दे से लोकप्रिय हुए अविनाश मुखर्जी का नाम तेजी से उभरकर सामने आया था। अविनाश को यह लोकप्रियता कलर्स चैनल के चर्चित धारावाहिक बालिका वधू के केंद्रीय पात्र जगदीश से मिली थी।

Third party image reference
8- बेबी गुड्डू - बेबी गुड्डू उर्फ शाहिन्दा बेग को लोग 80 के दशक में ‘बेबी गुड्डू’ के नाम से ही जानते थे। उन्होंने समुद्र , आखिर क्यों जैसी फिल्मों में प्रमुख भूमिका निभाई थी। एक बाल कलाकार के रूप में उनकी आखिरी फिल्म घर परिवार था। आज, वह दुबई में अमीरात एयरलाइंस के साथ काम करती हैं।

Third party image reference
9- परजान दस्तूर - आप सभी को फिल्म कुछ-कुछ होता है का वो नन्हा नटखट सरदार तो याद होगा जो पूरी फिल्म में तारे गिनता रहता है और फिल्म के अंत में जाकर एक डायलॉग बोलता है 'तुस्सी न जाओ' जो की बहुत प्रसिद्ध हुआ था, इसके बाद परजान नें परजानिया, सिकंदर और ब्रेक के बाद फिल्म में भी काम किया, परजान का कहना है की उन्होंने एक्टिंग से ब्रेक लिया है और अभी वो अपनी पढाई पर ध्यान देना चाहते हैं|
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments