90 के दशक में अपनी खतरनाक एक्टिंग से डराने वाले इस खलनायक का हुआ बहुत दुखद अंत

दोस्तों, बॉलीवुड के ऐसे बहुत से मशहूर सितारे हैं जो एक वक्त में बहुत चर्चित हुआ करते थे। लेकिन अपने आखिरी दिनों में उन्हें पहचान पाना भी मुश्किल हो गया था। ऐसे ही एक विलेन के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं जो बहुत प्रसिद्ध हुए और बाद में उनका बहुत दुखद अंत हुआ।

Third party image reference
90 के दशक में रामी रेड्डी सबसे प्रसिद्ध विलेन थे। उन्होंने 150 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया और केवल नकारात्मक किरदार ही किए थे। आंदोलन, चंदाल, दिलवाले, शेरा और वक़्त हमरा है उनकी कुछ सबसे यादगार फ़िल्में हैं।
रामी की एक विशेष तेलंगाना बोली थी और इसे दर्शकों ने बहुत पसंद किया था। दुख की बात है कि रामी को अपने अंतिम दिनों में जिगर और गुर्दे की समस्या का सामना करना पड़ा और इस तरह उन्होंने लोगों के साथ बातचीत करना बंद कर दिया।

Third party image reference
वह घर पर अकेले रहते थे। उन्हें एक बार एक समारोह में स्पॉट किया गया था, लेकिन किसी ने उन्हें वजन घटने के कारण पहचाना ही नही। वह बहुत कमजोर लग रहे थे।

Third party image reference
रामी ने अंततः 14 अप्रैल 2011 को हम सभी को अकेला छोड़ दिया। उन्होंने हैदराबाद में अपनी आखिरी सांस ली।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments