26 दिसंबर सूर्य ग्रहण तुलसी का पत्ता चुपचाप रख दे इस जगह आपकी 7 पुश्ते भी रूपये पैसों में करेंगी राज

साल का अंतिम सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर दिन गुरुवार को लगने जा रहे हैं। इस दिन सूर्योदय से पूर्व ही ग्रहण का सूतक लग जाएगा। इस दिन लगने वाला सूर्य ग्रहण ऐसा ग्रहण जो करीब 58 साल बाद लगने जा रहा है। इस ग्रहण के दौरान 6 ग्रह सूर्य, गुरु, चंद्रमा, शनि, बुध की युति धनु राशि में केतु के साथ होगी। इससे पहले ऐसा ग्रहण 5 फरवरी 1962 में लगा था। ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर होता है उस पर से जब 6 ग्रह एक साथ ग्रहण के समय साथ होंगें तो इसका व्यापक असर होगा जिससे साल 2020 में भी लोगों के जीवन में उतार-चढाव बना रहेगा। अगर आप नए साल को बेहतरीन बनाना चाहते हैं तो ग्रहण के दौरान इन कार्यों के करने से आप घर में सुख-समृद्धि और शांति ला सकते हैं। आइए जानते हैं ज्योतिष के 7 उपाय जिनके करने से आप आने वाले साल को शानदार बना सकते हैं…

Image result for 10:35 NOW PLAYING WATCH LATER ADD TO QUEUE 26 दिसंबर सूर्य ग्रहण तुलसी का पत्ता चुपचाप रख दे इस जगह आपकी 7 पुश्ते भी रूपये पैसों में करेंगी राज
ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, सूर्य ग्रहण के दौरान गायत्री मंत्र, गुरु मंत्र, सूर्य मंत्र, नारायण मंत्र का जप और ध्यान करना सर्वोत्तम माना गया है। ऐसा करने से आपके कुंडली में मौजूद सभी ग्रहों के अशुभ प्रभाव दूर होते हैं। इससे नए साल पर आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे। नए साल में आपकी आय में भी वृद्धि हो सकती है।

नए साल को बेहतरीन बनाने के लिए सूर्य ग्रहण के समय राहु-केतु से संबंधित उपाय करना लाभदायक माना जाता है। ऐसा करने से राहु-केतु शांत रहते हैं और अनावश्यक कष्टों से मुक्ति मिलती है। सभी प्रकार की नकारात्मक शक्तियां आपसे दूर रहती हैं। राहु केतु की शांत के लिए ग्रहण पूर्व तिल, तेल, कोयला, काले वस्त्र दान के लिए रख लें और ग्रहण समाप्त होने पर स्नान पूजा के बाद किसी जरूरतमंद को दान कर दें।

नए साल को शानदार बनाने के लिए ग्रहण काल के बाद पवित्र नदी में या जल में गंगाजल डालकर नहाना चाहिए। शारीरिक और मानसिक शुद्धि के लिए ग्रहण के बाद स्नान करना जरूरी बताया गया है। स्नान के बाद भगवान विष्णु की पूजा करें और दीपदान करें। इससे स्वास्थ्य पर अनुकूल असर होता है और प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...

No comments