76 साल की हुईं काजोल की मां तनुजा, पति से अलग होने के बाद फिल्मों का कहा था टाटा


बॉलीवुड एक्ट्रेस तनूजा का जन्म एक मराठी परिवार में 23 सितंबर 1943 कुमारसेन सामर्थ और शोबना सामर्थ के घर में हुआ था। उनके पिता कुमारसेन सामर्थ एक भारतीय फिल्म निर्देशक थे। तनूजा बेहद छोटी थीं तभी उनके माता-पिता अलग हो गए थे। तनूजा की तीन बहनें हैं-नूतन,चतुरा,रेशमा।

तनूजा बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री काजोल और तनिषा की माँ हैं। तनूजा की बहन नूतन हिंदी सिनेमा की एक मशहूर अभिनेत्री रह चुकीं हैं। तनूजा की शादी बंगाली फिल्म निर्देशक शोमू मुखर्जी से हुई। दोनों की दो बेटियां काजोल और तनीषा हैं।

काजोल बॉलीवुड की सफल एक्ट्रेस हैं और उन्होंने एक्टर अजय देवगन से शादी की है। शादी के कुछ साल बाद ही तनुजा और शोमू अलग हो गए थे, लेकिन उन्होंने कभी तलाक नहीं लिया।

10 अप्रैल 2008 में बीमारी के कारण शोमू मुखर्जी का निधन हो चुका है। तनूजा ने हिंदी फिल्म सिनेमा में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट एंट्री अपनी छोटी बहन नूतन के साथ किया था। बतौर अभिनेत्री उन्होंने अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत सन 1960 में फिल्म छबीली से की थी।

इस फिल्म का निर्देशन उनकी माँ ने किया था। फिल्म में बतौर मुख्य अभिनेत्री नूतन नजर आई थी। लेकिन उन्हें सफलता फिल्म हमारी याद आएगी से मिली थी। उन्होंने अपनी हिंदी फिल्मी करियर वो हंसके मिले हमसे, ज्वेल थीफ, जीने की राह, हाथी मेरे साथी जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया जिसके लिए उन्हें फिल्मफेयर के सर्वश्रेष्ठ पुरुस्कार से भी नवाजा गया।
तनूजा ने सिर्फ हिंदी सिनेमा में ही अपनी धाक नहीं जमाई बल्कि कई बंगाली फिल्मो में भी अपनी अदायगी का बेहतरीन प्रदर्शन किया। हालाँकि सन 1973 में पति से अलगाव होने के बाद तनूजा ने फिल्म जग से थोड़ी दूरी बना ली थी।


उसके बाद उन्होंने आठ साल के ब्रेक के बाद हिंदी सिनेमा में अपनी वापसी कि, लेकिन उस दौरान उन्हें फिल्म में बतौर सहयिका के रोल मिलने लगे उसके बाद उन्होंने सिंगल मदर बनकर अपने बच्चो की परवरिश की।

उन्होंने बतौर सहायक अभिनेत्री कई सुपरहिट फिल्मो में काम किया जिनमे, प्यार की कहानी, प्रेम रोग जैसी फ़िल्में शामिल हैं।
Loading...

No comments