नरगिस द्वारा दिए गए धोखे को मरते दम तक नहीं भूल पाए थे राज कपूर, खुद को सिगरेट से जलाते थे

Loading...

 
बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री नरगिस दत्त को मदर इंडिया के नाम से पहचाना जाता है। उन्होंने अपने करियर में कई सारी हिट फिल्में दी। बता दे कि राज कपूर और नरगिस की लव स्टोरी आज भी काफी लोकप्रिय है। यह दोनों एक-दूसरे को दिल से बेइंतहा प्यार करते थे। बता दें कि 3 मई 1981 को नरगिस का निधन हुआ। आज की इस पोस्ट में हम आपको नरगिस और राज कपूर की रोचक लव स्टोरी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं

 
जब भी फिल्म इंडस्ट्री में लव स्टोरी का जिक्र किया जाता है तो राज कपूर और नरगिस का नाम दिमाग में आता है। साल 1946 में नरगिस दत्त और राज कपूर की पहली मुलाकात हुई। राज कपूर नरगिस दत्त के दीवाने हो गए। इसके बाद राज कपूर ने इंदर राज आनंद के घर जाकर फिल्म 'आग' की स्क्रिप्ट लिखी थी। राज कपूर ने इंदर राज आनंद से कहा कि किसी भी तरह से इसको फिल्म में नरगिस दत्त को रोल मिलना चाहिए।

 
जिंदगी में नरगिस के आने से राज कपूर बहुत ही खुश रहने लगे। हालांकि राज कपूर पहले से ही शादीशुदा थे। नरगिस ने राज कपूर की उस बात को स्वीकार किया कि वह किसी भी अन्य निर्माता की फिल्म में काम नहीं करेंगी। बात शादी की आई तो राज कपूर ने अपने कदम पीछे हटा लिए। नरगिस को भी इस बात का एहसास हो गया कि अब वे अपनी पत्नी कृष्णा को कभी नहीं छोड़ने वाले। इसके कारण ही नरगिस ने दूसरी फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया।

 
अचानक ही नरगिस दत्त की लाइफ में सुनील दत्त की एंट्री हुई। राज कपूर से रिश्ता टूटने के बाद नरगिस पूरी तरह से टूट गई। हालांकि सुनील दत्त का उनको सहारा मिला। 1958 में दोनों की शादी हो गई शादी। जब राज कपूर का रिश्ता टूट गया तो वह कई घंटों तक शराब पीकर बाथ टब में रोते थे। इसके अलावा वे खुद को सिगरेट बटों से जलाते थे। उनको यही लगता था कि मैंने मदर इंडिया को साइन करके धोखा किया।
Loading...

No comments